बच्चों में मोटापा गंभीर समस्या, बचने के लिए इन टिप्स को करें फॉलो

कोविड-19 महामारी की वजह से बच्चे, बड़े, बुजुर्ग सभी अपने घरों में कैद हो गए. खासकर बच्चे जो स्कूल जाते थे, दोस्तों के साथ पार्क में खेलते-कूदते थे, फिजिकल एक्टिविटी करते थे, सब बंद हो गया और इसका सीधा असर पड़ रहा है बच्चों के बढ़ते वजन पर. हेल्थकेयर एक्सपर्ट्स की मानें तो जंक फूड ज्यादा खाने, फिजिकल एक्टिविटी न करने और घर से बाहर निकलकर दूसरे बच्चों के साथ खेलकूद न कर पाने की वजह से बड़ी संख्या में बच्चों में मोटापे की समस्या देखने को मिल रही है.

बच्चों में मोटापे की समस्या में हुई 10 गुना बढ़ोतरी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की मानें तो बच्चों में होने वाला मोटापा (Childhood Obesity) 21वीं सदी में सेहत से जुड़ी सबसे बड़ी समस्याओं से एक बन गया है. बीते 40 सालों में स्कूल जाने वाले बच्चे और टीनएजर्स में मोटापे की समस्या 10 गुना बढ़ गई है. भारत में हाल ही में हुए नैशनल फैमिली हेल्थ सर्वे में भी यही बात सामने आयी है. इस हेल्थ सर्वे में 22 राज्यों को शामिल किया गया था जिसमें से 20 राज्यों में बच्चों में मोटापे की समस्या में बढ़ोतरी देखने को मिली.

मोटापे से बचने के लिए इन टिप्स को पेरेंट्स करायें फॉलो 

हाई बीपी से लेकर डायबिटीज और हृदय रोग तक, मोटापा ही ज्यादातर बीमारियों की जड़ है. ऐसे में अगर समय रहते बच्चों की भोजन से जुड़ी आदतों में बदलाव किया जाए तो उनके बढ़ने वजन को कंट्रोल किया जा सकता है. बच्चों में मोटापे की समस्या कंट्रोल करने के लिए पैरंट्स इन टिप्स को अपना सकते हैं-

1. इन दिनों ज्यादातर बच्चे टीवी, वीडियो देखते हुए या गेम खेलते हुए ही खाना खाते हैं. यह पूरी तरह से अनहेल्दी आदत है जिसे तुरंत बदलने की जरूरत है. खाना खाते वक्त स्क्रीन पर नजर रहने से बच्चे को पता ही नहीं चलता कि उसने कितना खाना खाया है और इस वजह से वह ज्यादा या कम भोजन खाता है. इसलिए खाते वक्त बच्चों का ध्यान सिर्फ खाने पर होना चाहिए.

2. जहां तक संभव हो अपने बच्चे को चिप्स, चॉकलेट, फ्रेंच फ्राइज, कोल्ड ड्रिंक, कुकीज, केक, फ्राइड स्नैक्स, ब्रेड, नमकीन जैसी हाई कैलोरी वाली चीजें और जंक फूड से दूर ही रखें. ऐसी चीजें ज्यादा खाने की वजह से न सिर्फ बच्चे का वजन बढ़ता है बल्कि कम उम्र में ही गैस्ट्रिक की भी समस्या हो जाती है.

3. बच्चे को प्रोत्साहित करें कि वह ज्यादा से ज्यादा फल, सब्जियां, साबुत अनाज, दूध, दही, दाल, मछली- ये सारी चीजें खाएं. साथ ही बच्चे में दिनभर पानी पीने की भी आदत डालें. इसके लिए आपको खुद भी बच्चे के सामने उदाहरण सेट करना होगा. इसलिए आप भी हेल्दी ईटिंग की ही आदत अपनाएं.

4. कोरोना वायरस महामारी की वजह से ज्यादातर बच्चे घर में ही हैं हर वक्त स्क्रीन के सामने बैठकर पढ़ाई, वीडियो गेम या टीवी देखते रहते हैं. बच्चों में रोजाना कम से कम 1 घंटे फिजिकल एक्टिविटी करने की आदत डालें. रोजाना एक्सरसाइज करें या घर का ही कोई काम करने में पैरंट्स की मदद करें. 

loading...