शेन वॉर्न बोले- जो सचिन भी नहीं कर पाए, वो विराट ने कर दिया

Web Journalism course

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज लेग स्पिनर शेन वॉर्न ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की जमकर तारीफ की है।

शेन वॉर्न ने कहा कि भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वो मुकाम हासिल किया है, जो सचिन तेंडुलकर भी हासिल नहीं कर पाए।

सचिन से आगे विराट: वॉर्न

इसके अलावा शेन वॉर्न ने एबी डीविलियर्स और विराट कोहली को मौजूदा दौर में खेल के हर फॉर्मेट का सबसे शानदार बल्लेबाज ठहराया है। वनडे क्रिकेट में टारगेट का पीछा करने के मामले में सचिन और विराट के रिकॉर्ड के बारे में वॉर्न बात कर रहे थे। विराट ने वनडे क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करते हुए जो 19 शतक जमाए हैं, उसमें भारत की जीत हुई है।

वहीं सचिन तेंडुलकर ने लक्ष्य का पीछा करते हुए जो शतक लगाए हैं, उसमें 17 बार भारत की जीत हुई है। ऐसे में विराट सचिन से बेहतर हैं। हालांकि वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक जमाने के मामले में अभी भी सचिन तेंडुलकर काफी आगे हैं। तेंडुलकर ने वनडे में 51 शतक जमाए हैं तो वहीं कोहली के नाम 35 शतक हैं।

कोहली की तारीफ करते हुए शेन वॉर्न ने कहा कि, “जिस तरह विराट बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए एक के बाद एक शतक ठोक रहे हैं, वो वाकई हैरान करने वाला है। मुझे ऐसा लगता है कि विराट ने जो कर दिखाया है, वो सचिन भी शायद ही कर पाते।” हालांकि अपने दौर में ब्रायन लारा और सचिन तेंडुलकर को शेन वॉर्न ने सबसे श्रेष्ठ बल्लेबाज माना है। वहीं मौजूदा दौर में ये स्थान विराट कोहली और एबी डीविलियर्स को दिया है।

‘इंग्लैंड में बोलेगा विराट का बल्ला’

वॉर्न ने कहा कि, “हमें ये पता है कि मेरे दौर में सचिन और लारा सबसे अच्छे बल्लेबाज थे। मगर आज के दौर में विराट और एबी डीविलियर्स में से किसी एक को चुनना बड़ा मुश्किल है। मैं इन दोनों की ऊर्जा और जज्बे का कायल हूं। मुझे पक्का विश्वास है आज से दस साल बाद भी विराट के लिए उसी तरह बातें होंगी, जैसे कभी सचिन तेंडुलकर के लिए हुई थीं।”

इस आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए मेंटर की भूमिका निभा रहे शेन वॉर्न ने ये भविष्यवाणी कि है कि आगामी इंग्लैंड दौरे पर विराट कोहली का बल्ला जमकर बोलेगा। हालांकि पिछली बार जब विराट कोहली इंग्लैंड दौरे पर गए थे तो वो फ्लॉप रहे थे। कोहली ने सिर्फ 134 रन बनाए थे। भारत वो टेस्ट सीरीज 1-3 से हार गया था। मगर शेन वॉर्न को उम्मीद है कि इस बार विराट नाकामी के इस दाग को धो डालेंगे।

इंग्लैंड में विराट का प्रदर्शन

विराट कोहली अब तक खेले 66 टेस्ट की 112 पारियों में 5554 रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 21 शतक निकले हैं। वहीं कोहली का औसत भी 53.4 का रहा है। कोहली का इंग्लैंड में रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है। 2014 के इंग्लैंड दौरे पर विराट कोहली ने जो पांच टेस्ट खेले थे। उसमें उनके बल्ले से एक भी अर्धशतक नहीं निकला था। उस दौरे पर टेस्ट सीरीज में कोहली का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 39 रन था। दो पारियों में कोहली खाता भी नहीं खोल पाए थे।

वॉर्न के मुताबिक, “इंग्लैंड ही ऐसी जगह है, जहां विराट ने अपनी छाप नहीं छोड़ी है। मैं सोचता हूं कि विराट के लिए आगामी इंग्लैंड दौरा अविश्वसनीय होगा। जैसा उन्होंने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर किया था।”