आखिरी 9 गेंद में धोनी ने ठोके थे 28 रन, जानें पारी से जुड़े फैक्ट्स

Web Journalism course

भारत ने भले ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टी-20 गंवा दिया हो. लेकिन पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की खेली गई तूफानी पारी ने हर किसी का दिल जीत लिया. धोनी ने अपनी पारी में कई तरह के रिकॉर्ड तोड़े और अपने पुराने रिकॉर्ड्स में सुधार किया. इसके साथ ही उनकी फॉर्म पर लगातार उठ रहे सवालों का जवाब भी दिया.

धोनी ने मात्र 28 गेंदों में ताबड़तोड़ 52 रनों की नाबाद पारी खेली. इस पारी में उन्होंने 4 चौके और 3 छक्के जड़े. अंतरराष्ट्रीय टी-20 में ये धोनी का दूसरा अर्धशतक है. ये दो अर्धशतक धोनी ने हाल ही के समय में जड़े हैं. उनके दोनों अर्धशतक कप्तानी छोड़ने के बाद ही आए हैं.

टी-20 में एम एस धोनी

शुरुआती 65 पारियां – कोई अर्धशतक नहीं

आखिरी 12 पारियां – 2 अर्धशतक

कैसी रही धोनी की पारी

शुरुआती 13 गेंद – 24 रन, 1 चौका, 1 छक्का

आखिरी 9 गेंद – 28 रन, 3 चौके, 2 छक्के

टी-20 में आखिरी दो ओवरों में बनाए गए सबसे ज्यादा रन

युवराज सिंह – 10 गेंद 44 रन (2007)

एम एस धोनी – 9 गेंद 28 रन (2018)

विराट कोहली – 9 गेंद 21 रन (2016)

धोनी का दूसरा सबसे तेज पचासा

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का ये दूसरा सबसे तेज पचासा है. उन्होंने मात्र 27 गेंदों में अपनी फिफ्टी पूरी की, इससे पहले 2011 में इंग्लैंड के खिलाफ वनडे में उन्होंने मात्र 26 गेंद में पचास रन जड़े थे.

धोनी ने पांडे के साथ मिलकर अफ्रीका के सामने बड़ा लक्ष्य खड़ा किया. धोनी ने इस मैच में नाबाद 52 रनों की पारी खेली, जिसमें 3 छक्के और 4 चौके शामिल थे. मनीष पांडे ने भी 66 गेंदों में शानदार 79 रनों की पारी खेली. दोनों ने मिलकर आखिरी वक्त में टीम के लिए 98 रनों की साझेदारी की. लेकिन मैच में भारत को हार का सामना करना पड़ा.