रूखी त्वचा और बढ़ती उम्र की समस्याओं से पाना चाहती हैं छुटकारा, तो इन घरेलू उपायों को करें ट्राई

Web Journalism course

बढ़ती उम्र के साथ त्वचा में भी कई तरह के बदलाव आना लाजमी हैं बेशक इससे बच पाना संभव नहीं लेकिन रोक पाना काफी हद तक मुमकिन है। अच्छे खानपान और उचित देखभाल की मदद से।

रूखी त्वचा

रूखी त्वचा पर खिंचाव महसूस होता है। यह त्वचा पतली होती है, जिसके छिद्र हल्के नजर आते हैं। इस त्वचा में जलन, खुजलाहट और पपड़ियां उतरने की आशंका ज्यादा रहती है। मौसम का प्रभाव भी सबसे पहले इसी त्वचा पर पड़ता है। ऐसी त्वचा की उचित देखभाल न की जाए, तो झुर्रियां जल्दी ही नजर आने लगती हैं।

क्या करें

– ऐसी त्वचा को हाइड्रेशन और सुरक्षा प्रदान करने के लिए एलोवेरा के गूदे को मसल करके उसमें एक चम्मच शहद और एक चम्मच फेंटी हुई क्रीम मिलाएं या घर पर बनी दही मिलाएं। पैक को चेहरे और गर्दन पर लगाकर दस मिनट के लिए छोड़ दें, फिर ताजे पानी से चेहरा साफ कर लें।

– एलोवेरा में त्वचा को पोषण प्रदान करने के लिए जरूरी विटामिन ए, बी, डी और ई होते हैं। अगर आप इस मास्क में शहद मिलाती हैं तो यह त्वचा की नमी को बरकरार रखने का काम करता है।

– दो टेबलस्पून आडू को मसल कर उसमें दो-दो स्पून शहद और एक टी स्पून आमंड ऑयल मिलाएं। इसे पेस्ट को चेहरे पर लगाकर दस-पंद्रह मिनट के लिए छोड़ दें। फिर गुनगुने पानी से चेहरा साफ कर लें। आडू में विटामिन ए प्रचुर मात्रा में होता है, जो रूखी त्वचा को पोषण देने के साथ-साथ कोमल व आकर्षक बनाता है।

– एक पका केला छीलकर मसल लें। फिर चेहरे पर लगाकर दस मिनट के लिए छोड़ दें। चेहरा धोने से पहले ठंडा पानी हाथ में लेकर चेहरे को हल्के हाथों से मलें फिर धीरे-धीरे धोएं। केले में अमीनो एसिड, विटामिन और मिनरल जैसे- आयन, मैग्नीशियम होते हैं, जो त्वचा को पोषण देने के साथ-साथ उसे कोमल भी बनाते हैं।

झुर्रियों से आज़ादी

– उम्र बढ़ने के साथ-साथ त्वचा में कोलोजन एवं इलास्टिक नामक प्रोटीन की मात्रा लगातार कम होती जाती है। जिसके कारण त्वचा की कांति और नमी खत्म होती जाती है। उस पर झुर्रियां पड़ने लगती है। ऐसा असमय न हो इसके लिए यहां दिए गए उपायों को अपनाएं।

– झुर्रियों से बचने के लिए ताजे फलों और सब्जियों का पर्याप्त सेवन करें। जिससे आपको विटामिन ए, ई, बी और सी मिल सके। विटामिन ई और सी कोशिकाओं के विकास को बढ़ाते हैं और त्वचा पर कुदरती तेल प्रदान करने में मदद करते हैं, जिससे त्वचा में कसाव और चमक रहती है।

– धूम्रपान त्वचा के लिए नुकसानदेह होता है। यह त्वचा के टिश्यू को नष्ट करता है और उनके बनने की प्रक्रिया में भी बाधा डालता है। इस कारण त्वचा में ढीलापन आने लगता है और लकीरें बनने की प्रक्रिया तेज हो जाती है। अगर आप लंबे समय तक जवां रहना चाहती हैं तो धूम्रपान को त्यागना होगा।

– तनाव भी चेहरे पर हर पल की लकीरें पैदा करने का काम करता है। इसे करने के लिए योग या ध्यान करें।

– त्वचा की देखभाल संबंधी जितने भी प्रोडक्ट्स आप इस्तेमाल करती हैं, उनमें इस बात का ध्यान रखें कि कोई भी ऐसा तत्व न मौजूद हो जो त्वचा में जलन या परेशानी पैदा करे। जैसे मेंथॉल, लेमनग्रास, लाइम, लैवेंडर, फ्रैगरेंस और बोटैनिकल ऑयल या तत्वों से बचें।

loading...