सस्पेंड हुए सांसदाें का धरना प्रदर्शन जारी, राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश पहुंचे

Web Journalism course

देशभर में कृषि बिलों को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन तेज हो रहे हैं। लेकिन रविवार को राज्यसभा में भी इन बिलों के लेकर जमकर हंगामा हुआ। विपक्षी नेताओं ने बिल पास करने का विरोध किया और टेबल में चढ़कर नारेबाजी भी की।

इस हंगामे के बाद सोमवार को 8 विपक्षी सांसदों को सभापति वैंकेया नायडू ने सस्पेंड कर दिया। लेकिन सस्पेंड हुए ये सांसद अपने घर नहीं गए, बल्कि संसद परिसर में ही धरने पर बैठ गए। अब तक ये सभी सांसद वहीं धरने पर बैठे हुए हैं। एक वीडियो एएनआई ने ट्वीट किया है उसमें टीएमसी की सांसद डोला सेन संसद परिसर में गाना गा रही हैं।

मंगलवार सुबह सांसदों के धरनास्थल पर खुद राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश पहुंच गए। वह अपने साथ एक झोला लाए थे जिसमें सांसदों के लिए चाय थी। हरिवंश ने अपने हाथों से चाय निकाली और सांसदों को पिलाई। उन्‍होंने उन सांसदों से बात भी की।

सांसदों के निलंबन को अलोकतांत्रिक कदम बताते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि पहले तो सांसदों को बोलने का मौका नहीं दिया और उसके बाद निलंबित करने का फैसला कर दिया गया। वहीं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सरकार का बचाव किया और कहा कि राज्यसभा में सरकार को स्पष्ट बहुमत हासिल था।

रविशंकर ने कहा कि रविवार को राज्यसभा में 110 सांसद कृषि बिल का समर्थन कर रहे थे जबकि केवल 72 सांसद इसका विरोध कर रहे थे। रविशंकर ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि उनका एजेंडा सदन को बिल पास करने से रोकना था।

 

loading...