CM Yogi- कारीगर हाेंगे खुशहाल तभी समाज हाेगा मजबूत

Web Journalism course

विश्वकर्मा जयंती पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कारीगरों और शिल्पियों के हुनर को प्रोत्साहित किया। विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना में टूल किट का वितरण किया और प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत प्रदेश भर में 4500 लाभार्थियों को 60 करोड़ रुपये का ऋण बांटा गया।

सीएम योगी ने कहा कि अर्थव्यवस्था और समाज की व्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण विभिन्न ट्रेड के हस्तशिल्पियों, कारीगरों व अन्य पारंपरिक उद्योगों से जुड़े लोगों को वर्तमान सरकार ने समाज की मुख्यधारा में लाने का प्रयास किया है। पहले यह लोग उपेक्षित थे। उनके पास हुनर था, लेकिन मंच नहीं था। कौशल था, लेकिन प्रोत्साहन नहीं था।

राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना और एक जिला एक उत्पाद योजना लागू की, जिसमें बड़ी संख्या में लोगों को लाभान्वित किया गया।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2019-2020 में 19,938 कारीगरों को विभिन्न ट्रेड में प्रशिक्षण दिया गया। वर्तमान वित्तीय वर्ष में अब तक 1,12,889 आवेदन आए हैं, जिसमें से 20 हजार को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। शेष आवेदकों को भी इसी वर्ष प्रशिक्षण दिलाया जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 20 लाख एमएसएमई इकाइयों को ऋण दिया जाएगा। केंद्र सरकार के आर्थिक पैकेज के तहत प्रदेश के 10 लाख स्ट्रीट वेंडरों को लाभान्वित कराने का लक्ष्य रखते हुए उन्होंने कार्ययोजना बनाने के भी निर्देश दिए। 

loading...