अयाेध्या- भूमि पूजन से पहले आज हनुमान गढ़ी में पूजन

Web Journalism course

आज मंगलवार यानी भगवान राम के परम भक्त हनुमान जी का दिन है। आज के दिन पूरा देश अयाेध्या में कल होने वाले भूमि पूजन का इंतजार कर रहा है। हालांकि, भूमि पूजन से पहले आज हनुमान गढ़ी में सुबह 10 बजे हनुमान और निशान का पूजन होगा। राम अर्चना का कार्यक्रम भी होगा। राम जन्मभूमि परिसर में राम अर्चना होगी और करीब साढ़े पांच घंटे तक चलेगी।

निशान पूजन से हनुमान जी सरकार की अनुमति ली जाएगी। राम मंदिर निर्माण में निशान हनुमानगढ़ी के पूजन का महत्व है। हनुमानगढ़ी का निशान 1700 वर्ष पुराना है। राम जन्मभूमि परिसर में आज राम अर्चना होगी। रामअर्चना पूजन के माध्यम से भगवान श्रीराम को प्रसन्न किया जाएगा।

निशान पूजन की मान्यताओं के अनुसार प्रभु श्रीराम से जुड़े किसी भी विशेष कार्य से पहले उनके परमभक्त हनुमान की आज्ञा आवश्यक है और भूमि पूजन से पहले हनुमान जी का निशान पूजन इस बात को दर्शाता है। हनुमान गढ़ी में हनुमान पूजन और निशान पूजन दोनों की पूजा होती है। निशान पूजा अखाड़ों के निशान की पूजा होती है। निर्वाणी अखाड़े के ईष्ट देव हनुमान जी हैं। सबसे पहले हनुमान जी की पूजा की जाती है। 

कल यानी 5 अगस्त को 29 साल बाद ऐसा होगा कि प्रधानमंत्री मोदी अयोध्या जाएंगे। राम मंदिर के भूमिपूजन में अब सिर्फ 24 घंटों का वक्त बचा है। कल भूमि पूजन के लिए 175 अतिथियों को निमंत्रण भेजा गया है। 5100 कलश तैयार हो रहे हैं। अयोध्या की सीमा सील कर दी गई है। 5 अगस्त तक बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।

 

loading...