इन लापरवाही के चलते घर में दस्तक दे सकता है कोरोना…

Web Journalism course

जैसे-जैसे कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा हैं लोगों की चिंताएं भी बढ़ती जा रही हैं। अपनी जीवनी के लिए काम करना तो जरूरी हैं ही लेकिन सावधानी और सतर्कता के साथ। ऐसे में आपको जरूरत होती हैं सही जानकारी की जिनका ध्यान नहीं रखने से आप घर में कोरोना का आगमन कर सकते है। कुछ समय पहले स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा एडवाइजरी जारी कर एन-95 मास्क को सुरक्षित नहीं माना गया था। ऐसे समय में की गई लापरवाही दूसरों का जीवन भी खतरे में डाल सकती हैं।

हमेशा मास्क का करें इस्तेमाल

मास्क वैसे कोरोना वायरस से बचने की गारंटी तो नहीं है, लेकिन इससे पहनने से खतरा काफी हद तक कम जरूर हो सकता है। दुनियाभर के वैज्ञानिक ऐसा करने की सलाह दे रहे हैं। वैसे तो बेहतर है कि आप घर से ना निकलें, लेकिन अगर बहुत जरूरी है तो बाहर निकलते समय मास्क जरूर पहनें।

कौन सा मास्क है ज्यादा कारगर?

डॉक्टरों की मानें तो बाजार से मास्क खरीदने से बेहतर है कि घर पर बने सूती मास्क को ही प्राथमिकता दी जाए। अपोलो अस्पताल के डॉ। यश बताते हैं कि संक्रमण से बचाव के लिए घर पर बनाए मास्क सबसे ज्यादा कारगर हैं। ऐसे मास्क बनाने के लिए आप किसी भी उपयोग किए हुए सूती कपड़े का इस्तेमाल कर सकते हैं।

थूक के जरिए भी घर आ सकता है कोरोना

किसी-किसी की आदत होती है कि वह चलते-चलते सड़क पर या सार्वजनिक जगहों पर थूक देता है जबकि ऐसा कभी नहीं करना चाहिए। यह एक सामाजिक बुराई तो है ही, साथ ही यह दूसरों की सेहत के लिए भी खतरनाक है। मान लीजिए कि अगर कोई संक्रमित व्यक्ति सड़क पर थूक देता है तो राह चलते लोगों के जूते-चप्पलों के जरिए यह वायरस दूसरे लोगों के घरों तक भी पहुंच सकता है। यह सिर्फ कोरोना ही नहीं बल्कि टीबी और हेपेटाइटिस जैसी बीमारियां भी घर में ला सकता है।

loading...