यूपी के छात्र ने बढ़ाया गाैरव, बनाई ऑटोमेटिक मिस्टर सैनिटाइजर मशीन

प्रधानमंत्री के सशक्त उद्यम आत्मनिर्भर भारत से प्रेरणा लेकर लॉक डाउन के दौरान -वर्क फ्रॉम होम- में जुटे फ़तेहपुर ज़िले के बिंदकी मीरखपुर निवासी बीटेक छात्र प्रखर सोनी ने ऑटोमेटिक मिस्टर सैनिटाइजर मशीन 10 दिनों में तैयार की है।

Source- Jagran                                                                                                                                                                                                                                  इस मशीन में अल्ट्रासोनिक सेंसर और चिप लगी हुई है। सेन्सर के सामने हाथ आते ही 0.3 सेकेंड में 3 से 4 बूंद सैनिटाइजर हाथ में गिरता है। यह मशीन सस्ते उत्पाद की दिशा में बढ़ाया गया कदम हैं। इस मशीन में खास बात यह है कि इसको मोबाइल से कनेक्ट करके भी चलाया जा सकता हैं। इस मशीन को चलाने के लिए मात्रा 5 वॉट बिजली ख़र्च होंगी और सैनिटाइज़र की भी बचत होंगी। यह मशीन बहुत ही सस्ती होने के कारण इसको दुकान, बस, टैक्सी या घर जैसी जगहों में आसानी से लगाया जा सकता है।

बीटेक छात्र प्रखर सोनी ने बताया कि इस मशीन से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा कम रहेगा, क्योंकि सैनिटाइज़र बोतल को बार-बार छूते हैं लेकिन इसको छूने की जरूरत नहीं पड़ती है। हाथ दिखाने मात्र से हाथ सैनिटाइज़ हो जायेंगे। भीड़भाड़ वालें इलाक़े में इसे रखा जा सकता हैं। इस मशीन को बनाने में अल्ट्रासोनिक सेंसर, माइक्रो कंट्रोलर, वाटर पंप और घरेलू वस्तुएं लगाई गई है।

loading...