प्यार में कैसे बनी रहें खुशियां हमेशा…..

Web Journalism course

 

लखनऊ। कहते हैं प्यार पाने का नहीं खोने का नाम है, लेकिन कई बार हम प्यार में इतना खो जाते हैं कि अपनी पहचान और खुशी गंवा देते हैं। प्यार में रिश्ताें के तार बहुत पेंचीदा और अक्सर उलझे हुए होते हैं, उनकाे सुलझाने में ही हम रिश्ताें की गुत्थी में फंस कर रह जाते हैं और अपनी पहचान खाे बैठते हैं। ऐसे में भावनात्मक रूप से कमज़ोर हाे कर अपने साथी पर निर्भर हाे जाते हैं।

आइये आपको बताये कि कैसे प्यार में डूबने के बजाय कैसे उसे उड़ने दिया जाये। अपनी प्राथमिकताओं काे ध्यान में खते हुए उसे बरकरार रखा जाये।

सबसे पहले खुद काे व्यस्त रखें – खाली बैठने से अच्छा है कि कुछ काम करें। आपकाे जाे पसंद है कुछ वक्त उसी काम के लिए निकालें। अपने साथी के बारे में ही हमेशा साेच साेच कर परेशान न हाें। अपने आप काे आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास करें।

मजबूत बनें और साथी काे स्पेस दें- आपसी रिश्ताें में एक दूसरे काे आज़ादी दें जिससे सम्मान बढ़ सके।

अपनी पहचान न खाेने दें – अपना फैसला मजबूती से लें और भावनाआें में न बहें। यह ज़िन्दगी आपकी है किसी दूसरे के हवाले न करें।

जलन न करें – जलन की भावना खुद पर हावी न हाेने दें। यह नुकसानदेह हाे सकता है। खुद को किसी से कम न आंकें और अपनी क्षमताआें पर विश्वास रखें।

यदि आप इन उपायाें पर अमल करने का प्रयास करेंगी ताे रिश्ताें में कभी काेई कड़वाहट पैदा नहीं होगी और साथी का प्यार भी पायेंगी। आप आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगी ताे दुनिया आपके कदमों में रहेगी।