अब बच्चाें काे केवल इतने दिन स्कूल जाना पड़ेगा, जानिये कारण

Web Journalism course

खबर है कि एनसीईआरटी ने स्कूलों को दोबारा खोलने पर अपनी गाइडलाइन तैयार करके केंद्र सरकार को सौंप दिया है। गाइडलाइंस में स्कूल प्रबंधन, शिक्षकों, अभिभावकों और छात्रों की जिम्मेदारी तय की जाएगी और परीक्षाओं को आयोजित कराने के संबंध में भी नियम होंगे।

एनसीईआरटी की गाइडलाईन के मुताबिक बच्चों को अब हफ्ते में केवल 3 दिन ही स्कूल जाना होगा। जिसमे एक दिन में स्कूल के 50 प्रतिशत छात्र-छात्राओं को ही स्कूल में आने की अनुमति होगी, जबकि शेष 50 प्रतिशत छात्र-छात्राओं को अगले दिन स्कूल आना होगा। एक कक्षा के छात्रों को एक साथ नहीं बुलाया जाएगा।

रोल नंबर के आधार पर सम-विषम का सूत्र अपनाया जायेगा। स्कूल अवधि में बच्चों को आपस में किसी भी तरह की शेयरिंग से रोका जायेगा। वह न तो अपने स्टेशनरी को आपस में बदल सकेंगे और न ही अपना टिफिन शेयर कर सकेंगे। गाइडलाईन में कहा गया है कि स्कूल अपनी सुविधा के अनुसार दो पालियों में और खुले मैदान में भी कक्षाओं का संचालन कर सकते है।

गाइडलाइन में सोशल डिस्टेंसिंग पर सबसे ज्यादा जोर दिया गया है। स्कूल प्रबंधकों व शिक्षकों की जिम्मेदारी होगी कि कक्षाओं में बच्चों के बीच कम से कम 6 फीट की दूरी अवश्य रखी जाए। कक्षाओं में भी गृहकार्य पर ज्यादा जोर दिया जायेगा। स्कूलों में सभी तरह के समारोहों पर रोक रहेगी और सुबह की प्रार्थना सभा तथा शिक्षक-अभिभावक मीटिंग भी स्थगित रखी जायेगी। स्कूल में प्रवेश से पहले सभी विद्यार्थियों, शिक्षकों तथा अन्य कर्मचारियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जायेगी। स्कूल ऑनलाइन टीचिंग के विकल्प को जारी भी रख सकते है। वे ऑनलाइन असाइनमेंट दे सकते हैं।

loading...