केरल में मानसून ने समय पर दी दस्तक

Web Journalism course

केरल में मानसून ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है। केरल के दक्षिण पश्चिम में मानसून ने समय पर दस्तक दे दी है। जिस समय मानसून पहुंचा है उसी समय की भविष्यवाणी भी की गई थी। पिछले दो दिनों से केरल में भारी बारिश जारी है। अरब सागर में चक्रवात निसर्ग के बनने से केरल में मानसून की शुरुआत के लिए परिस्तिथियां सही हैं।

मौसम विभाग ने केरल के नौ जिलों- तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, एर्नाकुलम, इडुक्की, मलप्पुरम और कन्नूर के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। राज्य की राजधानी तिरुवनंतपुरम में सुबह से ही लगातार बारिश हो रही है।

जून से सितंबर तक चलने वाले इस मानसून की वजह से देश में 75 फीसदी बारिश होती है। भारत में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून हर साल जून से लेकर सितंबर तक 4 महीनों तक रहता है। आम तौर पर यह सबसे पहले केरल में दस्तक देता है। इसके बाद अलग-अलग वक्त पर यह देश की अलग-अलग जगहों पर पहुंचता है।

loading...