महाराणा प्रताप जयंती 2020: वीरता, साहस और बहादुरी के प्रतीक थे महाराणा

Web Journalism course

भारत में आज यानि 25 मई को महाराणा प्रताप जयंती मनाई जा रही है। इनका जन्म 9 मई 1540 को  मेवाड़ में हुआ था। महाराणा प्रताप के युद्ध कौशल और रणनीति के किस्से-कहानियां आज भी उतने ही मशहूर हैं जिनका उस समय में हुआ करते थे। इनकी वीरता, साहस और बहादुरी से भारत भूमि गौरवान्वित है।

महाराणा प्रताप का जन्म महाराजा उदयसिंह एवं माता राणी जीवत कंवर के घर में हुआ था। उन्हें बचपन और युवावस्था में कीका नाम से भी पुकारा जाता था।  महाराणा प्रताप के पास चेतक नाम का एक घोड़ा था जो उन्हें सबसे प्रिय था। उसकी फुर्ती, रफ्तार और बहादुरी की कई लड़ाइयां जीतने में अहम भूमिका रही। 

 

loading...