सुशील मोदी के ‘डिजिटल चुनाव’ पर छिड़ा घमासान, विपक्ष उखड़ा

Web Journalism course

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने डिजिटल चुनाव की बात छेड़ दी यानि कैम्पेनिंग फ्रॉम होम और वोटिंग फ्रॉम होम। अब इस पर सियासी घमासान शुरू हो गया है।

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि बिहार में इस बार का चुनाव डिजिटल तरीके से होगा। सुशील मोदी ने कहा है कि नेताओं ने अब तक हेलीकॉप्टर और गाड़ियों से चुनाव प्रचार किया है। लेकिन कोरोना वायरस ने दुनिया को बदल दिया है। सुशील मोदी ने कहा कि बिहार में होने वाले चुनाव में पार्टियां वोट मांगने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करेंगी।

सुशील मोदी के इस बयान पर विपक्ष हत्थे से उखड़ गया है। उनके मुताबिक ईवीएम से चुनाव कराने पर जब बड़े पैमाने पर धांधली की जा सकती है तो डिजिटल चुनाव मे तो धांधली करने की काफी संभावनाएं रहेंगी । एटीएम हैक हो जा रहा है, डाटा की चोरी हो जा रही है।

बड़े पैमाने पर साइबर क्राइम हो रहे हैं फिर डिजिटल चुनाव को कैसे विश्वसनीय माना जा सकता है । निष्पक्ष चुनाव के लिए बैलेट पेपर के माध्यम से चुनाव होना चाहिए ।