योगी ने शुरू की श्रमिक भरण-पोषण योजना, 20 लाख मजदूरों दी गई पहली किस्‍त

Web Journalism course

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज प्रदेश के 20 लाख से अधिक दिहाड़ी मजदूरों को एक हजार रुपये की पहली किस्त डीबीटी के माध्यम से उनके अकाउंट में भेज दी।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ सबको सहभागी बनाने की दृष्टि से प्रदेश सरकार ने दैनिक श्रमिकों के लिए भरण-पोषण की व्यवस्था की है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि यूपी सरकार रेहड़ी, ठेला, खोमचा, रिक्शा, ई-रिक्शा चालक और पल्लेदारों को भी 1 हजार रुपये का भरण-पोषण भत्ता दे रही है। इसके लिए नगर विकास विभाग को अधिकृत किया गया है।

योजना की शुरुआत करते हुए सीएम योगी ने चार दिहाड़ी मजदूरों को प्रतिकात्मक तौर पर 1 हजार रुपये का चेक भी दिया। योगी ने कहा कि कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए सोशल डिस्टेंस बनाने और होम क्वारंटाइन के कारण लोगों का रोजगार प्रभावित हुआ है। जिसकी वजह से यह व्यवस्था की जा रही है।