अयोध्या फैसले से पहले सीएम योगी ने पूरे प्रदेश में स्कूल, कॉलेज बंद करने के दिए आदेश

Web Journalism course

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर शनिवार सुबह 10.30 पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आना है. इस फैसले के मद्देनजर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एहतियातन पूरे प्रदेश में स्कूल, कॉलेज, एजुकेशनल सेंटर और ट्रेनिंग सेंटर बंद रखने का फैसला लिया है. जानकारी के मुताबिक यूपी में 9 से 11 नवंबर तक स्कूल और कॉलेजों में छुट्टी घोषित की गई है. इसी तरह दिल्ली और मध्य प्रदेश में भी स्कूल कॉलेज बंद रहेंगे.

इसके अगले दिन 12 नवंबर को गुरुनानक जयंती है. इसका मतलब हुआ कि उत्तर प्रदेश में अगले 4 दिन (9 नवंबर से 12 नवंबर) स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे. इसके साथ ही पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट भी घोषित किया गया है और सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी गई है. अयोध्या में धारा 144 लागू है. साथ ही सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. अयोध्या में अर्धसैनिक बलों के 4000 जवानों को तैनात किया गया है. लोगों से संयम बरतने की अपील की गई है. सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है.

आपको बता दें कि अयोध्या विवाद मामले में शनिवार को यानी आज सुप्रीम कोर्ट फैसला सुनाएगा . बता दें कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट पहले ही फैसला सुरक्षित रख चुका है. इस बीच यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि वे प्रदेश में शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखें.

योगी ने अपने अपील में कहा है कि प्रशासन सभी की सुरक्षा व प्रदेश में कानून-व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कटिबद्ध है . कानून व्यवस्था से खिलवाड़ करने वालों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने प्रदेश की जनता से यह भी अपील की है कि आने वाले फैसले को जीत-हार के साथ जोड़कर न देखा जाए. अफवाहों पर कतई ध्यान न दें.

गृह मंत्रालय ने योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली उत्तर प्रदेश सरकार को अयोध्या में सभी सुरक्षा तैयारियों को सुनिश्चित करने के लिए आगाह किया था. अयोध्या को सुरक्षा तैयारियों के साथ किसी भी अप्रिय घटना को विफल करने के लिए एक किले की तरह बदल दिया जाएगा.