सीएम योगी से दिग्विजय सिंह ने कमलेश तिवारी हत्याकांड को लेकर किया ये बड़ा सवाल

Web Journalism course

कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधा है. दिग्विजय सिंह ने कहा है कि यह सुनोयोजित हत्या है या नहीं? योगी जी क्या आप गुरु गोरखनाथ जी की गद्दी पर रहते हुए एक ब्राह्मण की हत्या होते देखते हुए भी चुप रहेंगे? बीजेपी के हत्यारे को गिरफ्तार नहीं करेंगे? मुझे आप से यह उम्मीद नहीं थी.

एक अन्य ट्वीट में दिग्विजय सिंह ने गृहमंत्री अमित शाह से सवाल पूछते हुए कहा कि अमित शाह जी क्या भारत सरकार के गृह विभाग का आचार्य प्रमोद कृष्णम की सुरक्षा हटाने का निर्णय उचित था? जबकि आपके ही पूर्व गृह मंत्री राजनाथ जी ने आचार्य जी को पूर्ण सुरक्षा दी हुई थी. कृपया पुनर्विचार करें. अन्यथा सारी जवाबदारी आपकी होगी.

इस मामले पर दरअसल प्रमोद कृष्णम ने ट्वीट किया था. उन्होंने ट्वीट में कहा कि मैं कल बाराबंकी गया था, लेकिन सुरक्षा का कोई इंतज़ाम नहीं था,जब कि सारा देश जानता है कि कट्टर पंथी मेरी  हत्या करना चाहते हैं, क्या ये सरकार कमलेश तिवारी की तरह मुझे भी निपटाना चाहती है.

पुलिस को मिले अहम सुराग

कमलेश तिवारी हत्याकांड में पुलिस को एक और सफलता हाथ लगी है. कमलेश तिवारी के हत्यारे जिस होटले में ठहरे थे, वहां से पुलिस ने दोनों के सामान बरामद किए हैं. दोनों हत्यारे लखनऊ के ही नाका थाना क्षेत्र के खालसा इन होटल में ठहरे थे. जहां से पुलिस ने भगवा कपड़े और बैग बरामद किए थे. वहीं बरामद कपड़ों पर खून भी लगा हुआ है.

तौलिया खोलने पर भी खून के धब्बे दिखे. बैग में जिओ फोन पैकेट भी मिला है. साथ ही सेविंग किट, चश्मे का डिब्बा रखा मिला. कानूनी कार्रवाई के बाद होटल का कमरा सील कर दिया गया है.