जानें पीरियड्स में कम ब्लीडिंग के कारण

Web Journalism course

पीरियड्स में कम ब्लीडिंग की समस्या बहुत सी महिलाओं की है. मासिक धर्म में कम रक्तस्राव कई बार खतरनाक भी होते हैं.  ब्लीडिंग कम हो या ज्यादा हो इसके कई कारण हो सकते हैं. अगर आपको भी पीरियड्स में कम ब्लीडिंग होती है, तो डॉक्टर से इस बारे में जरूर बात करें. इसके अलावा खान-पान में सही फूड शामिल करके भी पीरियड्स के दर्द और कम ब्लीडिंग की समस्या से छुटकारा पा सकती हैं. आज हम आपको इसके कारण और इसके उपाय बताने जा रहे हैं.

मासिक धर्म में कम ब्लीडिंग के कारण

जिस तरह हॉर्मोनल अंसतुलन से पीरियड में ज्यादा ब्लीडिंग होती है, उसी तरह पीरियड में कम ब्लीडिंग का कारण भी हॉर्मोनल बदलाव हो सकता है. अगर आपको लंबे समय से पीरियड्स के वक्त कम रक्त स्त्राव हो रहा है तो पहले तो डॉक्टर्स की सलाह ले क्योंकि इनका कारण यह भी हो सकते हैं. डॉक्टर्स से सलाह देने के साथ-साथ आप कुछ घरेलू नुस्खे भी आजमा सकते हैं जो पीरियड्स को सही तरीके से लाने में आपकी मदद करेंगे.

पालक और गाजर का जूस

शरीर में जब खून की कमी होती है तब भी पीरियड्स में ब्लीडिंग कम होती है. अगर आपको भी यह समस्या है तो आपको अपनी डाइट में पालक और गाजर का जूस शामिल करना चाहिए. इससे शरीर में जरूरी तरल पदार्थ के साथ खून भी बनता है.

हींग है फायदेमंद 

हींग के इस्तेमाल से शरीर में प्रोजेस्टेरोन हॉर्मोन की मात्रा बढ़ जाती है, जिस कारण कम ब्लीडिंग की समस्या भी दूर होती है. इसलिए अपनी डाइट में हींग का सेवन जरूर करें.

गन्ने का रस का सेवन करें 

पीरियड्स में कम ब्लीडिंग की समस्या को रोकने के लिए गन्ने का रस बहुत लाभदायक होता है. इसलिए पीरियड्स शुरू होने के 14 दिन पहले से ही हर रोज एक गिलास गन्ने का रस पीना शुरू कर दें.

दालचीनी मासिक धर्म नियमित करती है 

पीरियड्स में ब्लीडिंग ठीक से हो तो दालचीनी का इस्तेमाल करें. दालचीनी के पाउडर को गर्म पानी में मिलाकर दिन में 2-3 बार पिएं. इससे ब्लीडिंग अच्छी होगी और पीरियड्स का दर्द भी दूर रहेगा.

अदरक का सेवन फायदेमंद 

ब्लीडिंग बढ़ाने और पीरियड्स दर्द से राहत पाने के लिए अदरक को पतला काटे और पानी में उबालें. फिर अदरक के पानी हल्का गुनगुना करके पिएं. इसका सेवन दिन में 2-3 बार करें. इससे भी काफी फायदा होगा.