सऊदी अरब ने बदले ये बड़े नियम…

Web Journalism course

कभी सबसे प्रतिबंधित जगहों में शुमार रहा सऊदी अरब धीरे-धीरे अपने नियमों में नरमी बरत रहा है. एक ताजा फैसले में सऊदी ने ऐलान किया कि अब महिला और पुरुष होटल के एक ही कमरे में ठहर सकते हैं. यह नियम विदेशी कपल पर लागू होगा, जबकि सऊदी के नागरिकों को आईडी कार्ड दिखाना होगा.

दरअसल, सऊदी अरब के पर्यटन और नेशनल हेरिटेज मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि सऊदी अरब के नागरिकों को फैमिली आईडी या रिलेशनशिप के प्रमाण दिखाने होंगे जबकि विदेशी कपल्स के लिए ऐसा नहीं होगा. इसके अलावा महिला भी होटल में कमरा लेकर अकेले ठहर सकती है.

इससे पहले सऊदी अरब में ऐसा करना प्रतिबंधित था. अभी तक सऊदी अरब में विदेशी कपल को रूम लेने के लिए अपना रिश्ता साबित करना पड़ता था. सऊदी में शादी के बिना महिला और पुरुष के एक साथ रहने पर प्रतिबंध है.

सऊदी अरब ने  नई टूरिस्ट वीजा नीति के तहत यह फैसला लिया है. वो चाहता है कि उसके यहां विदेशी पर्यटक अधिक से अधिक आएं ताकि निवेश बढ़ सके. यह कदम एक प्रकार से पर्यटकों को लुभाने के लिए भी है.

हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि यह कदम सऊदी की महिलाओं को यात्रा करने में आसानी दिलाएगा. इसके अलावा अविवाहित विदेशी यात्रियों को सऊदी अरब जैसे देश में एक साथ रहने में भी मदद करेगा.

इससे पहले सऊदी अरब ने 49 देशों के विदेशी पर्यटकों के लिए अपने दरवाजे खोले हैं. सऊदी ने यह भी घोषणा की थी कि अब पर्यटकों को बुर्का पहनने की जरूरत नहीं है हालांकि वे शालीन कपड़े जरूर पहनें.

 सऊदी अरब में महिलाओं को लेकर नियमों में लगातार नरमी की जा रही है. पिछले साल अगस्त में महिलाओं को ड्राइविंग लाइसेंस की अनुमति मिली थी. इसके अलावा महिलाएं अकेले विदेश भी जा सकती हैं.