प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- भूमि को बंजर होने से रोकने के लिए सिंगल यूज प्‍लास्टिक पर प्रतिबंध हाेे

Web Journalism course

भारत ने 2030 तक दो करोड़ 60 लाख हैक्‍टेयर बंजर भूमि को खेती योग्‍य बनाने का लक्ष्‍य रखा है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने मरूस्‍थलीकरण रोकने के बारे में नोएडा में संयुक्‍त राष्‍ट्र संधि में शामिल देशों के 14वें सम्‍मेलन- कॉप 14 को सम्‍बोधित करते हुए यह जानकारी दी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्‍व के दो-तिहाई से ज्‍यादा देश मरूस्‍थलीकरण की समस्‍या से प्रभावित हैं। उन्‍होंने कहा कि बंजर भूमि के साथ साथ हमें पानी की कमी की समस्‍या पर भी ध्‍यान देना होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि समग्र भूमि और जल नीति के अन्‍तर्गत जल आपूर्ति बढ़ाना और जमीन में नमी को रोके रखना जैसे उपाय शामिल हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने प्रस्‍ताव रखा कि जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता और भूमि का बंजर होना जैसी समस्‍याओं से निपटने के लिए दक्षिण-दक्षिण सहयोग और बढ़ाने की पहल की जाये।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उपग्रह और अंतरिक्ष टैक्‍नोलोजी के जरिये जमीन को फिर खेती योग्‍य बनाने के कम लागत वाले कार्यक्रमों में भारत मित्र देशों की सहायता करेगा।

प्रधानमंत्री ने सिंगल यूज़ प्‍लास्टिक पर रोक लगाने का अनुरोध दोहराते हुए कहा कि प्‍लास्टिक स्‍वास्‍थ्‍य पर बुरे प्रभाव तो डालता ही है, साथ ही जमीन को भी खेती के लायक नहीं रहने देती।