19 साल की बियांका ने US Open में सेरेना को दी मात

Web Journalism course

कनाडा की 19 साल की टेनिस खिलाड़ी बियांका एंड्रेस्कू ने शनिवार को अमेरिका की दिग्गज सेरेना विलियम्स को हराकर साल के चौथे ग्रैंड स्लैम-अमेरिका ओपन का महिला एकल खिताब जीत लिया. 19 साल की बियांका ने आक्रामक खेल दिखाते हुए सेरेना को सीधे सेट में 6-3, 7-5 से हराकर न सिर्फ अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता बल्कि सेरेना को अपना रिकॉर्ड 24वां ग्रैंड स्लैम जीतने से रोक दिया.

बियांका ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली कनाडाई खिलाड़ी बन गई हैं. सेरेना को लगातार दूसरे साल फ्लशिंग मिडोस (अमेरिका ओपन) के फाइनल में हार मिली है. बीते साल जापान की नाओमी ओसाका ने हराया था. बीते साल अमेरिकी ओपन फाइनल में ही 37 साल की सेरेना की चेयर अम्पायर के साथ नोक-झोंक हुई थी. वह विवाद काफी गहरा गया था.

सेरेना को सबसे अधिक 24 ग्रैंड स्लैम जीतने के मारगरेट कोर्ट के रिकॉर्ड की बराबरी करने के लिए जनवरी में होने वाले साल के पहले ग्रैंड स्लैम आस्ट्रेलियन ओपन तक का इंतजार करना होगा. दो साल पहले बेटी को जन्म देने बाद से सेरेना को सात मेजर टूनार्मेंट्स फाइनल्स में से चार में हार मिली है. सेरेना ने कुल 33 बार ग्रैंड स्लैम फाइनल खेले हैं.

दूसरी ओर, बियांका ओपन एरा में अमेरिकी ओपन के मेन ड्रॉ टूनार्मेंट डेब्यू के बाद खिताब जीतने वाली पहली महिला बन गई हैं. 1968 में इस टूनार्मेंट की शुरुआत हुई थी. बियांका ने अब तक अपने करियर में सिर्फ चार मेजर टूनार्मेंट में हिस्सा लिया है.

मैच के बाद बियांका ने स्थानीय खिलाड़ी सेरेना को हराने के लिए दर्शकों से माफी मांगी. बियांका ने मैच के बाद कहा, ‘मैं जानती हूं कि आप लोग सेरेना को उनका सातवां अमेरिकी ओपन खिताब जीतते हुए देखने आए थे. इसलिए मैं आपसे माफी मांगती हूं.’

बगल में खड़ी सेरेना इस बात पर मुस्कुरा उठीं क्योंकि वह जानती थीं कि बियांका ने इतिहास रच दिया है. 19 साल की बियांका 2006 में अमेरिकी ओपन खिताब जीतने वाली रूस की मारिया शारापोवा के बाद ग्रैंड स्लैम जीतने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बन गई हैं.