गरीबों की मेेहनत की कमाई हड़पनेे वालों पर मोदी सरकार ने कसा शिकंजा

Web Journalism course

गरीबों की मेेहनत की कमाई हड़पनेे वालों पर मोदी सरकार ने शिकंजा कस दिया हैैैै। लोकसभा ने अनियंत्रित जमा योजना पाबंदी विधेयक 2019 को मंजूरी प्रदान की हैै, जिसमें अविनियमित जमाओं एवं पॉंजी स्कीमों की बुराई को रोकने एवं ऐसी योजनाओं को प्रतिबंधित करने की बात कही गई है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 10 जुलाई को अनियंत्रित जमा योजना पाबंदी विधेयक 2019 को मंजूरी प्रदान की थी । यह विधेयक अनियंत्रित जमा योजना पाबंदी अध्‍यादेश, 2019 का स्‍थान लेगा।

सरकार का कहना है कि यह विधेयक देश में अवैध रूप से जमा किये जा रहे धन के प्रभाव से निपटने में मदद करेगा। वर्तमान में नियामक अंतरों का लाभ उठाते हुए तथा कठोर प्रशासनिक उपायों के अभाव में गरीब लोगों की गाढ़ी कमाई से की गई बचत ठगी जा रही है। विधेयक के उद्देश्यों एवं कारणों में कहा गया है कि उक्त विधेयक का मकसद अवैधरूप से चलाई जा रही जमा योजनाओं पर पाबंदी लगाना, किसी अविनियमित जमाराशि जुटाने वाली योजना का प्रचार-प्रसार अथवा संचालन में कठोर दंड का प्रावधान है। इसके साथ ही पर्याप्त प्रावधानों से जमाराशि का पनर्भुगतान भी होगा।  प्रस्तावित विधेयक के अनुसार ऐसे मामलों के लिये न्यायालयों का गठन करने की बात कही गई है ।

सरकार का कहना है कि यह विधेयक देश में अवैध रूप से जमा किए जा रहे धन के प्रभाव से निपटने में मदद करेगा। वर्तमान में नियामक अंतरों का लाभ उठाते हुए तथा कठोर प्रशासनिक उपायों के अभाव में गरीब लोगों की गाढ़ी कमाई से की गई बचत ठगी जा रही है।

विधेयक के उद्देश्यों एवं कारणों में कहा गया है कि उक्त विधेयक का मकसद अविनियमित निक्षेप स्कीमों पर पाबंदी लगाना, किसी अविनियमित निक्षेप स्कीम में कपटपूर्ण कार्यो को रोकने का प्रावधान करना है। इसमें ऐसी योजनाओं पर निवारक दंड का उपबंध किया गया है। प्रस्तावित विधेयक के अनुसार ऐसे मामलों के लिए न्यायालयों का गठन करने की बात कही गई है।

सदन में अविनयमित निक्षेप स्कीम पाबंदी विधेयक, 2019 पर चर्चा का जवाब देते हुए वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था कि गरीबों से जुड़े इस विधेयक पर सभी दलों का समर्थन यह दर्शाता है कि जब कोई गरीबों की गाढ़ी कमाई का पैसा लूटने का प्रयास करता है तो पूरा सदन उन्हें बचाने के लिए एकजुट हो जाता है।

उन्होंने कहा कि गरीबों का पैसा लूटकर कोई बच नहीं सकता है और इस विधेयक में ऐसे प्रावधान किए गए हैं। ठाकुर ने कहा कि इस विधेयक के माध्यम से पॉंजी योजनाओं की बुराई को समाप्त करने के लिए विधायी प्रावधानों को मजबूत बनाया गया है और खामियों को दूर करने का प्रयास किया गया है। उन्होंने यह भी कहा था कि इस संबंध में नियम राज्य सरकारों के माध्यम से बनेंगे। इससे राज्य एवं केंद्र दोनों सरकारों को ताकत मिलेगी।