धारा 370 हटाना काेई बच्चाें का खेल नहीं

Web Journalism course

पराग कमठान ।

आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने जम्‍मू-कश्‍मीर के लिए ऐतिहासिक बदलाव की पेशकश की जिसमें उन्‍होंने यहां से अनुच्‍छेद 370 व 35(ए) हटाने की सिफारिश की। इसका मतलब यह हुआ कि जम्‍मू-कश्‍मीर काे मिला विशेष राज्य का दर्जा खत्म हाे गया।

इसमें काेई शक नहीं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी और गृहमंत्री अमित शाह की हिम्मत और अटूट विश्वास के चलते ही यह संभव हाे पाया है। 70 साल पुराने विवाद पर बेबाकी से राय रखना ही बहुत बडी बात है । ऐसा काम काेई शेर दिल वाला ही कर सकता था और यह बरसाें पुराना लंबित काम अब शुरू हाे गया। 

अनुच्‍छेद 370 के हटने के साथ ही कश्मीर से विस्थापित कश्मीरी पंडिताें की वापसी की राह आसान हाे जाएगी और भारत के दूसरे राज्याें के लाेग अब वहां जमीन ले सकेगें, स्थायी रूप से रह सकेगें। 

भारत के ऐसे सच्चे राष्ट्रवादी ,निर्भीक, देशभक्ताें काे उनके हौसले और ऐतिहासिक फैसले के लिए बार बार नमन, प्रणाम ।

loading...