भारत का सबसे पुराना स्कीइंग डेस्टिनेशन है ‘नारकंडा’

Web Journalism course

हिमाचल प्रदेश में स्थित नारकंडा भारत का सबसे पुराना स्कीइंग डेस्टिनेशन है, जो समुद्र तल से लगभग नौ हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यहां की गगनचुंबी पर्वत चोटियों की सुंदरता एवं शीतल, शांत वातावरण खूब आकर्षित करता है।

कुदरत की रंगीन फिजाओं में बसा यह छोटा-सा हिल स्टेशन आकाश को चूमती और पाताल तक गहरी पहाडि़यों के बीच घिरा हुआ है। ऊंचे रई, कैल व तोश के पेड़ों की ठंडी हवा यहां के शांत वातावरण में रस घोलती रहती है। 

नारकंडा में सबसे ऊंचाई पर स्थित हाटू माता का मंदिर है। यह स्थान लंका से काफी दूर था, लेकिन कहा जाता है कि मंदोदरी हाटू माता की भक्त थीं, जिसकी वजह से ही उन्होंने यह मंदिर बनवाया। वह यहां प्रतिदिन पूजा करने के लिए आती थीं। यह मंदिर पूरी तरह लकड़ी से बना है। 

कोटगढ़ और ठानेधार, नारकंडा से 17 किमी. की दूरी पर समुद्र तल से 1830 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। कोटगढ़, सतलुज नदी के बायें किनारे पर स्थित है। अपने यू आकार के लिए प्रसिद्ध एक प्राचीन घाटी है, जबकि ठानेधार अपने सेब के बगीचों के लिए लोकप्रिय है।