Mutual Funds से पैसे निकालने की प्रक्रिया है आसान, जानिये कैसे

Web Journalism course

लोगों के बीच जागरूकता बढ़ने से अब म्‍युचुअल फंडों के प्रति उनका रुझान बढ़ा है। निवेश के पारंपरिक तरीके जैसे रैकरिंग डिपॉजिट, फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट की जगह निवेशक अब लंबे समय के लिए इक्विटी म्‍युचुअल फंडों में निवेश करने लगे हैं।

अगर आपने म्‍युचुअल फंडों में इन्‍वेस्‍ट किया है और अपने पैसे निकालना चाहते हैं तो इसकी शुरुआत किसी भी कारोबारी दिन शुरू कर सकते हैं। अगर आप एजेंट की मदद न लेकर खुद यह काम करना चाहते हैं तो आपको म्‍युचुअल फंड कंपनी की वेबसाइट से ट्रांजैक्‍शन स्लिप डाउनलोड करना होगा। इसे भर लीजिए और इस रिडेम्‍पशन अप्‍लीकेशन को संबंधित म्‍युचुअल फंड कंपनी के किसी भी कार्यालय में जमा करवा दें। 

अगर आप टेक सैवी हैं तो ऑनलाइन भी म्‍युचुअल फंड से पैसे निकाल सकते हैं। ज्‍यादातर म्‍युचुअल फंड कंपनियां अपनी वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन रिडेम्‍पशन की सुविधा देती है। अगर आपने ऑनलाइन निवेश किया है तो यह प्रक्रिया और आसान हो जाती है। 

इक्विटी फंडों का पैसा 4-5 दिनों में निवेशकों के अकाउंट में आ जाता है. गौर करने वाली बात यह है कि अगर आपने इक्विटी फंडों में निवेश किया हुआ है और यूनिट खरीदने के 365 दिनों के भीतर उसे भुना रहे हैं तो आपको 1% तक का एक्जिट लोड देना पर सकता है. लिक्विड फंड, अल्ट्रा शॉर्ट टर्म फंड्स आदि पर कोई एक्जिट लोड नहीं लगता है।