World Autism Day पर आई सपोर्ट फ़ाउंडेशन और होटल हयात ने लखनऊ में जागरूकता कार्यक्रम का किया आयोजन

Web Journalism course

लखनऊ। ऑटिज़म के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करना, समुदाय में उनकी स्वीकार्यता और उनके लिए बाधारहित वातावरण तैयार करने के साथ-साथ उन्हें समान अवसर प्राप्त करने योग्य बनाने के लिए समाज को आगे आना चाहिए,  जिससे वे अपने समुदाय में अपनी पूर्ण भागीदारी सुनिश्चित कर सकें। यह विचार आज आई सपोर्ट फ़ाउंडेशन की अध्यक्ष बॉबी रमानी ने  लखनऊ के गोमती नगर स्थित होटल हयात रीजेन्सी में विश्व ऑटिज़म डे के अवसर पर   “Contribution to the cause of raising awareness and acceptance about Autism” विषय पर आयोजित एक जागरूकता कार्यक्रम के दौरान व्यक्त किये। इस कार्यक्रम का आयोजन आई सपोर्ट फ़ाउंडेशन एवं हयात रीजेन्सी के संयुक्त तत्वावधान में किया गया, जिसमें लोगों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया।

कार्यक्रम की शुरूआत में हयात रीजेन्सी के Learning Manager अमित नेगी ने उपस्थित मुख्य अतिथि  महाप्रबंधक हयात रीजेन्सी कुमार शोभन, आई सपोर्ट फ़ाउंडेशन की अध्यक्ष बॉबी रमानी, विशिष्ट अतिथि संस्था के बच्चों एवं उनके अभिभावकों का स्वागत किया।  श्री नेगी ने विश्व स्वलीनता (ऑटिज़म) दिवस कार्यक्रम की रूपरेखा पर विस्तार से प्रकाश डाला। वहीं बॉबी रमानी ने विश्व स्वलीनता दिवस के विषय में लोगों को विस्तार से अवगत कराया। इस मौके पर सभी लाेगों ने ऑटिज़म डे पर नीले रंग के परिधान धारण किये।

हयात रीजेन्सी की प्रबंधक एच॰आर॰ पल्लवी चाकी ने बताया कि इस तरह के आयोजन से अन्य सार्वजनिक क्षेत्रों में कार्यरत लोगों के लिए उदाहरण प्रस्तुत करेगा। उन्होंने बताया कि इससे लोगों को यह पता चलेगा कि यदि उनके यहाँ ऑटिज़म अथवा अन्य किसी दिव्यांगता से ग्रसित कोई बच्चा या व्यक्ति आता है, तो उनके साथ उन्हें कैसा व्यवहार करना है।

इस अवसर पर हयात रीजेन्सी के महाप्रबंधक कुमार शोभन द्वारा संस्था में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले बच्चों के लिए “Fine Dining Experience” के लिए मध्याह्न भोजन का आयोजन किया गया। इसके साथ ही संस्था के बच्चों के लिए विभिन्न प्रकार के विशिष्ट समावेशी खेलों का भी आयोजन किया गया।