प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की पहल, चारधाम यात्रा मार्गों पर 4000 होटल कर्मियों एवं 1000 टूरिस्ट गाइडों को दिया जायेगा प्रशिक्षण

Web Journalism course
देहरादून। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अन्तर्गत उत्तराखंड के चारधाम यात्रा मार्गों पर चार हजार होटल कर्मियों एवं एक हजार टूरिस्ट गाइडों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। यह प्रशिक्षण बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री एवं यमुनोत्री यात्रा मार्गों पर कार्यरत होटल कर्मियों तथा टूरिस्ट गाइडों को दिया जायेगा।
यह जानकारी मंगलवार को प्रशिक्षण देने वाले कौशल विकास निगम लिमिटेड आईएल एंड एफएस के रमेश पेटवाल ने राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को उनसे भेंट के दौरान दी।
 
श्री रावत ने कहा कि देश के युवाओं को उद्यमिता से संबंधित कौशल उपलब्ध कराना प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का मुख्य उद्देश्य है। इससे युवाओं का उद्यमिता क्षमता को विकसित करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि चारधाम रोड कनेक्टिविटी के साथ प्रोसपेरिटी को भी मजबूत करेगी। इस परियोजना के पूर्ण होने से जहां प्रदेश के इन चार धामों तक जाने के लिए पर्यटकों व श्रद्धालुओं को सुगमता होगी वहीं स्थानीय लोगों को कौशल विकास से जोड़ने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि स्थानीय स्तर पर आर्थिक स्थिति को इससे मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि आल वेदर रोड का निर्माण कार्य पूरा होने पर यात्रा मार्ग साल भर युवाओं को प्रत्यक्ष तथा अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार से जोड़ने में मदद मिलेेगी।