अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर फिर बोला हमला

Web Journalism course

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर फिर हमला बोला है। पाकिस्तान के साथ अमेरिका अच्छे संबंध बनाना चाहता है, लेकिन ऐसा नहीं किया जा सकता क्योंकि यह देश दुश्मनों को पनाह देता है। इसीलिए इस देश को मिलने वाली 1.3 अरब डॉलर (करीब 9143 करोड़ रुपये) की सैन्य सहायता रोकी गई।

हम अफगानिस्तान में आतंकियों को तलाशते हैं और वे अपने यहां उन्हें सुरक्षित पनाह देते हैं। ट्रंप ने यह भी आरोप लगाया कि अमेरिका के प्रति पाकिस्तान ईमानदार नहीं था। वह पाकिस्तान के नए नेतृत्व से मिलने के उत्सुक हैं। उनकी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से जल्द ही मुलाकात होने वाली है।

ट्रंप ने कैबिनेट सहयोगियों को बताया कि उनके प्रशासन ने युद्ध प्रभावित अफगानिस्तान में शांति स्थापित करने की पहल की है। इसके लिए तालिबान के साथ शांति वार्ता की शुरुआत की गई है।