पेट की खराबी से होता है कब्‍ज और बवासीर, जानिए इसका उपचार

Web Journalism course

आज की आधुनिक जीवनशैली में पाचन क्रिया प्रभावित होना आम समस्या बन गयी है। जिसका नतीजा स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों के रूप में हमारे सामने आता है। पाचन क्रिया खराब होने पर भोजन पूरी तरह से पचता नहीं है जिसके कारण शरीर को पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाता। जिसके कारण रोग प्रतिरोधक क्षमता भी क्षीण होती जाती है और शरीर बीमारियों का घर बनते देर नहीं लगती। 

पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने के लिये आहार, पाचन पद्धति तथा जीवनचर्या में बदलाव लाना बेहद महत्वपूर्ण है। सर्वप्रथम जंक फूड, फास्ट फूड, कोल्ड ड्रिंक, अल्कोहल, सिगरेट, तला-भुना या अधिक भोजन करने से परहेज करें। रात का भोजन सोने से कम से कम दो-तीन घंटे पहले करें और भोजन करने के बाद टहलना शुरू करें। देर रात तक न जागें और अच्छी नींद अवश्य लें।

अपनी दिनचर्या में शारीरिक व्यायाम को शामिल करें। खाने का समय निर्धारित करें। खाने में जल्दबाजी न करें और भोजन को अच्छी तरह से चबा कर खायें। ठंडे पानी के बजाये गरम पानी पीना पाचन शक्ति को बढ़ाता है।