IIT-IIM के छात्र रहे हैं कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन, उनके बारे में जानिए और कई रोचक बातें

Web Journalism course

Newsi7 Special desk

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन देश के नये मुख्य आर्थिक सलाहकार नियुक्त किए गए हैं। उन्हें तीन साल के लिए नियुक्त किया गया है। पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन के अगस्त में कार्यकाल खत्म होने के बाद से यह पद खाली था। सुब्रमण्यन भारत के टॉप बिजनेस स्कूल- इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस में पढ़ाते हैं।

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन का परिचय

कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस हैदराबाद के सहयोगी प्रोफेसर और कार्यकारी निदेशक हैं। हैदराबाद की इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस वेबसाइट के मुताबिक कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यम ने शिकागो-बूथ से पीएचडी की है, वह आईआईटी-आईआईएम के पूर्व छात्र रह चुके हैं।

सुब्रमण्यम को बैंकिंग, कॉर्पोरेट प्रशासन और आर्थिक नीति में दुनिया के टॉप विशेषज्ञ के रूप में जाना जाता है। मुख्य आर्थिक सलाहकार ने प्रोफेसर लुइगी ज़िंगालेस और प्रोफेसर रघुराम राजन की देख-रेख में फाइनेंशियल इकोनॉमिक्स में एमबीए और पीएचडी किया है।

आईएसबी हैदराबाद जॉइन करने से पहले सुब्रमण्यम ने अमेरिका के एमोरी यूनिवर्सिटी के बिजनेस स्कूल में फाइनेंस फैकल्टी के रूप में भी अपनी सेवाएं दी हैं। वह न्यूयॉर्क में जेपी मॉर्गन चेस कंपनी में बतौर सलाहकार भी जुड़े रहे हैं। कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन आईसीआईसीआई लिमिटेड में एलिट डेरिवेटिव्स रिसर्च ग्रुप के साथ काम कर चुके हैं जो भारत की टॉप प्रोजेक्ट फाइनेंसिंग संस्था रही है।

उन्होंने सेबी की स्टैंडिंग कमिटी के वैकल्पिक निवेश नीति, प्राइमरी मार्केट, सेकेंडरी मार्केट और रिसर्च सदस्य के रूप में भी कार्य किया है। कृष्णमूर्ति बंधन बैंक लिमिटेड के बोर्ड में शामिल रहे हैं, इसके अलावा नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बैंक मैनेजमेंट और आरबीआई अकादमी के बोर्ड में भी काम किया है।