देश के इन नए शहरों में जल्द दौड़ेगी मेट्रो

Web Journalism course

दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और बेंगलुरू जैसे शहरों में जहां पहले से मेट्रो दौड़ रही है वहीं 15 दूसरे शहरों में मेट्रो चलाने की तैयारी चल रही है। आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि इन 15 शहरों में 664 किमी लंबे मेट्रो रेल प्रोजक्ट पर अलग-अलग चरणों में काम चल रहा है। वहीं 515 किमी से ज्यादा लंबे रूट पर पहले से मेट्रो चल रही है।

आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने विभिन्न मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए 2015-16 में 9,286.09 करोड़ रुपये, 2016-17 में 15,298.61 करोड़ रुपये, 2017-18 में 13,956.23 करोड़ रुपये और 2018-19 (30 सितंबर 2018 तक) में 7,481.28 करोड़ रुपये का फंड जारी किया है।

नियमों के मुताबिक, केंद्र सरकार राज्यों के मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए कुल लागत का 10 फीसद ग्रांट या राज्य सरकारों के साथ 50ः50 इक्विटी शेयर करती है। वहीं पीपीपी मॉडल के तहत बनने वाले पब्लिक ट्रांसपोर्ट प्रोजेक्ट के लिए 20 फीसद तक की कैपिटल कॉस्ट का वहन करती है।