रंग-बिरंगे फूलों से लकदक उत्तरकाशी की इस घाटी के बारे में जानिए

Web Journalism course

उत्तराखंड हिमालय में ‘वैली ऑफ फ्लावर’ के साथ ऐसी अनेक छोटी-छोटी फूलों की घाटियां हैं, जिनकी खूबसूरती बरबस ही मन को मोह लेती है। रंग-बिरंगे फूलों से लकदक उत्तरकाशी की हर्षिल घाटी भी इन दिनों ऐसा ही अनुपम सौंदर्य बिखेर रही है। यहां जिधर भी नजर दौड़ाइए, प्रकृति खिलखिलाते नजर आती है। यहां क्यारकोटी और सात ताल क्षेत्र में फूलों की दो मनमोहक घाटियां हैं। जो हर्षिल से दस किमी के अंतराल पर हैं।

समुद्रतल से 3200 मीटर की ऊंचाई पर स्थित क्यारकोटी जाने के लिए जिला मुख्यालय उत्तरकाशी से 75 किमी दूर हर्षिल तक सड़क जाती है। यहां से पांच किमी की पैदल दूरी पर लाल देवता का मंदिर है। यह स्थल बगोरी की जाड़ व भोटिया जनजाति का प्रमुख धार्मिक स्थल है। लाल देवता मंदिर से क्यारकोटी की दूरी पांच किमी है। यह एक बेहद खूबसूरत स्थल है, जहां कदम-कदम पर पसरे बुग्याल इन दिनों बहुरंगी फूलों से गुलजार हैं। क्यारकोटी से जिस भी घाटी में चले जाइए, वहां आसानी से फूलों का दीदार हो जाता है।