योगी आदित्यनाथ -शौचालय बनने से स्वच्छता को मिला मुकाम

Web Journalism course

फतेहपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज फतेहपुर में दीप प्रज्जवलित कर स्वच्छता ही सेवा अभियान शुरू किया। कार्यक्रम की औपचारिक शुरुआत के बाद वह सीधे प्रधानमंत्री मोदी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े।

वीडियो कांफ्रेसिंग में मुख्यमंत्री योगी  आदित्यनाथ ने पीएम नरेंद्र मोदी को बताया कि आज से 4 साल पहले यूपी के लिए गांवों के लिए स्वच्छता एक सपना था, अधिकांश गांव गंदे थे। जब से यह मिशन शुरू हुआ है तब से 25 लाख शौचालय गांवों में बने हैं। उस समय 23 प्रतिशत कवरेज था और 2017 में इसे जन आंदोलन बनाया गया। प्रदेश में 56 हजार स्वच्छाग्री तैनात किए गए और सफाई कर्मचारियों को तैयार किया। इसके साथ ही दो लाख बीस हजार राजमिस्त्रियों को तैयार किया। प्रदेश में एक करोड़ छत्तीस लाख घरों का निर्माण करवाया गया, जहां शौचालय की सुविधा है। सीएम ने कहा कि छोटे परिवारों के लिए कार्ययोजना तैयार हो चुकी है।

दो अक्टूबर 2019 तक यूपी में कोई ऐसा घर नहीं होगा जिसके परिवार में शौचालय नहीं हो। यहां बारिश के दौरान पहले बीमारियां फैल जाती थी, लेकिन अब हालात बदल रहे हैं। सेहतमंद गांवों का निर्माण हो रहा है। सीएम ने पीएम से कहा कि मैं सम्मान के साथ बता सकता हूं कि अब बीमारियों के आंकड़े 50 फीसद तक कम हो गए हैं। स्वच्छता का संबंध हमारी सेहत से जुड़ा है और हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि यूपी जल्दी ही निर्मल होगा।