पीएम मोदी: बोहरा समाज से मेरा पुराना रिश्ता, सय्यद साहब ने हमेशा मेरा साथ दिया

Web Journalism course

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज इंदौर में दाऊदी बोहरा समुदाय के कार्यक्रम में कहा कि आप सभी के बीच आना हमेशा मुझे एक प्रेरक अवसर और सुखद अनुभव देता है। अशर-ए-मुबारका में पीएम मोदी ने कहा कि इमाम हुसैन अमन और इंसाफ के लिए शहीद हो गए। उन्होंने अन्याय और अत्याचार के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद की थी। उनकी सिखाई गई बातों की जितनी तब जरूरत थी, उससे ज्यादा आज है। हमें अपने अतीत पर गर्व है, वर्तमान पर विश्वास है और आने वाले कल के लिए हम आत्मविश्वास से भरे हुए हैं। बोहरा समाज के लोग विश्वभर में अपनी पहचान बना रहे हैं। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर कहा कि अपनों से प्यार और दूसरों की मदद करने में दाऊदी बोहरा समाज हमेशा आगे रहा है।

बोहरा समुदाय मुख्यत: व्यापार करने वाला समुदाय है। दाऊदी बोहरा समुदाय के सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन 53वें धर्मगुरु हैं, उनके 12 सितंबर से इंदौर में धार्मिक प्रवचन चल रहे हैं। सैयदना पहली बार इंदौर आए हैं।

देश की जनता चला रह है स्वच्छता अभियान 

आयुष्मान भारत अभियान का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अब आयुष्मान भारत देश के करीब-करीब 50 करोड़ गरीब भाई-बहनों के लिए संजीवनी बनकर आई है। एक साल में 5 लाख तक का मुफ्त इलाज सुनिश्चित करने वाली इस योजना का अभी ट्रायल चल रहा है। स्वच्छ भारत अभियान शुरू भले ही सरकार ने किया हो, लेकिन आज इस अभियान को देश की 125 करोड़ जनता चला रही है। गांव-गांव, गली-गली में स्वच्छता के प्रति एक अभूतपूर्व आग्रह पैदा हुआ है। चार वर्ष पहले तक जहां देश के 40 प्रतिशत घरों में ही टॉयलेट थे, आज ये दायरा 90 फीसद से भी अधिक हो गया है। आज हम जिस इंदौर शहर में जुटे हैं, ये तो स्वच्छता के इस आंदोलन का अगुवा है। इंदौर निरंतर स्वच्छता के पैमाने पर देश भर में नंबर वन रहा है। इंदौर ही नहीं भोपाल ने भी इस बार कमाल किया है। एक प्रकार से पूरे मध्य प्रदेश के मेरे युवा साथी, एक-एक जन इस आंदोलन को गति दे रहे हैं।’

बोहरा समाज का साथ मेरे साथ

उन्‍होंने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि आप सभी का साथ और विश्वास मेरे साथ है। जन्मदिन के पहले ही आपने मुझे देशहित के लिए दुआएं दी। मैं जब गुजरात रहा तो बोहरा समाज ने मेरा साथ दिया और यहां इस पवित्र मंच से भी मुझे इतना प्यार मिला है। दांड़ी यात्रा के दौरान पूज्य बापू महात्मा गांधी सैफुद्दीन जी के घर रुके थे, दोनों शांति के लिए प्रतिबद्ध थे। पीएम ने कहा कि कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में सहयोग मांगा गया था तब भी बोहरा समाज और सय्यद सहाब ने मेरा पूरा साथ दिया था। इनके साथ मेरा पुराना रिश्ता है। 

उन्होंने कहा कि लगभग 11,000 लोगों को आपकी बदौलत अभी तक अपना घर मिल चुका है। सरकार भी 2022 तक सभी को घर देना चाहती है। शिक्षा, स्वास्थ्य और सेवा के क्षेत्र में सरकार को दिए गए आपके सहयोग से सरकार को काफी मदद मिल रही है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.