स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा पर कसा तंज, कहा- आस्था को प्रामणिकता की जरूरत नहीं

Web Journalism course

रायबरेली। केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा पर तंज कसते हुये कहा कि राजनीतिक सशक्तिकरण की मंशा दिल में लिये पवित्र धाम की यात्रा पर गये श्री गांधी को पता होना चाहिये कि आस्था को कभी प्रामणिकता की जरूरत नही होती।

राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी आयी श्रीमती ईरानी ने कहा आस्था को कभी प्रामाणिकता की जरूरत नहीं पड़ती। आस्था प्रभु के द्वार पर प्रभु और भक्त के बीच का सम्बंध होता है। न भगवान सार्टिफिकेट मांगता है न भक्त सार्टिफिकेट मांगता है। जो आज सार्टिफिकेट दे रहे हैं उन्हें पता होना चाहिए कि ये भक्ति का मार्ग नहीं है बल्कि राजनैतिक सशक्तीकरण का एक प्रयास है। 

 अमेठी के जायस में स्थित राजीव गांधी पेट्रोलियम संस्थान में पत्रकारों से मुखातिब भाजपा नेता ने कहा  कांग्रेस के मुखिया ने सिद्धू साहब के पाकिस्तान के दौरे पर चुप्पी साधी रखी । एक तरफ नवजोत सिंह सिद्धू हैं जो उसी जरनल से गले लगते हैं जो भारत के खिलाफ आज जहर उगल रहे, दूसरी तरफ मणिशंकर अय्यर हैं जिनकी सदस्यता को ख़ारिज करने का ढोंग राहुल जी ने गुजरात के चुनाव में रचा था। स्मृति ने कहा कि यहाँ के सांसद आलू से सोना निकल रहे थे लेकिन मैं गृहणी हूं मैं वादा करती हूं कि जल्द ही खड़ी ग्रामोद्योग की मदद से आलू उत्पादक किसानों के लिए डायवर्सिफाइड इंडस्ट्री लगवाने की पूरी कोशिश करूंगी।

 प्रदेश की योगी सरकार की तारीफ करते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि पहली बार प्राथमिक विद्यालय के बच्चे बेंच और मेज पर बैठ कर पढ़ रहे है।  केंद्रीय मंत्री श्रीमती स्मृति ज़ुबिन ईरानी ने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार की तुलना में भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार  ने  ग्राम पंचायतों को तीन गुना अधिक धनराशि दी है।

पहली बार मोदी सरकार के काल में ग्राम स्वराज अभियान शुरू किया गया है जिसमें संबंधित विभागों के अधिकारी और मंत्री ग्रामीणों के बीच जाकर विभिन्न योजनाओं की प्रगति का जायजा लेते हैं। स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रत्येक परिवार में एक शौचालय बनाने के काम में तेजी लाना आज की बड़ी जरूरत है।

रायबरेली जिले में उज्ज्वला योजना के तहत 1.60 लाख गैस कनैक्शन दिए गए हैं। इस अवसर पर महिला लाभार्थियों के बीच विभिन्न योजनाओं से संबंधित चेक भी वितरित किए।  

केन्द्रीय मंत्री ने रायबरेली स्थित आधुनिक रेल डिब्बा कारखाना का भी दौरा किया महाप्रबंधक राजेश अग्रवाल ने केन्द्रीय मंत्री को कारखाने की प्रगति अौर भविष्य में होने वाली कार्यकलापों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। जिसमें मुख्य रूप से 480 करोड़ रूपये की लागत से कारखाना कीउत्पादन क्षमता 1000 से बढाकर 2000 करने की योजनाए आधुनिक  रेल डिब्बा कारखाना रायबरेली में एल्मुनियम और मेट्रो कोच का निर्माण शामिल है।

  इसके अतिरिक्त आधुनिक रेल डिब्बा कारखानाए रायबरेली में ट्रेन सेट्स व एलएचबीप्लेटफार्म पर मेमू ट्रेन बनाने की योजना के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी गई,बैठक के बादए श्रीमती ईरानी ने कारखाने का निरीक्षण भी किया और कारखाने में बन रहे कोच का उत्पादन कादेखकर खुशी जाहिर की ।