अलास्का एयरलाइंस क्रैश से पहले मैकेनिक रिक ने कंट्रोल रूम से की थी ये बात…

Web Journalism course

अमेरिका के सिएटल टैकोमा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर एक बड़ा हादसा होने से टल गया।प्लेन को चुरा कर उड़ाने वाले शक्स ने क्रैश के पहले कंट्रोल रुम से बातचीत भी की थी। शुक्रवार की रात रनवे पर अलास्का एयरलाइंस को खड़ा देख रिक नाम के शक्स ने आत्मघाती कदम उठाते हुए प्लेन को उड़ा लिया। किसी उड़ान का शेड्यूल नहीं था इसलिए विमान में कोई यात्री नहीं था।प्लेन को खाली पाकर चुपके से एयरपोर्ट का एक मैकेनिक रिक वहां पहुंच गया और विमान का इंजन स्टार्ट कर दिया। प्लेन को उड़ता देख एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) में हड़कंप मच गया। जैसे ही पता चला कि रिक विमान लेकर उड़ गया है तुरंत एटीसी ने रिक से संपर्क साधा।

एटीसी ने माइक्रोफोन पर पायलट बने रिक से बात की गई और एटीसी ने कहा- ‘तुम्हारी जान को जोखिम है, इसलिए जैसा हम कह रहे हैं, वैसा करो। तुम्हारे दाएं ओर एक रनवे है। हमारे निर्देश सुनो और वहां लैंडिंग कराने की कोशिश करो।’ इस पर रिक ने जवाब दिया और एटीसी से कहा ‘मैं ये कर सकता हूं। आप लोग ये बताओ कि अगर मैंने विमान को सुरक्षित लैंड करा दिया तो मुझे पायलट बनाओगे?’ इस बीच अमेरिकी सेना के दो फाइटर जेट विमान ने रिक का पीछा किया।

फाइटर जेट्स ने रिक के विमान को शहर की सीमा से बाहर खदेड़ा,थोड़ी देर में रिक भी समझ गया कि उसने विमान से नियंत्रण खो दिया है। उसने एटीसी को कहा- ‘अब अगर मैंने रनवे पर विमान की लैंडिंग कराने की कोशिश भी की तो बड़ा नुकसान हो जाएगा।’ रिक ने ये भी कहा कि अगर बच गया तो सारी जिंदगी जेल में कटेगी,ये कहते हुए वो जोर से हंसने लगा। दो-तीन मिनट की बातचीत के बाद उसने विमान को एक सुनसान आईलैंड की ओर मोड़ दिया और यहीं पर विमान क्रैश हो गया। 

सिएटल टैकोमा एयरपोर्ट अथॉरिटी ने बयान देते हुए कहा कि वो इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि ये कोई आतंकवादी या आपराधिक घटना नहीं थी। मैकेनिक रिक को पायलट बनने का शौक था। इसीलिए उसने ये आत्मघाती कदम उठाया। गनीमत तो ये रही कि विमान में कोई यात्री भी नहीं था और न ही विमान शहर की सीमा में क्रैश हुआ। अथॉरिटी के मुताबिक अभी रिक की मौत की पुष्टि नहीं हुई है लेकिन एक शिप को हादसे वाली जगह पर भेजा गया है। जब वहां से प्लेन का मलबा हटाया जायेगा, तभी स्थिति साफ हो पाएगी।

पायलट बनने की चाह में मैकेनिक को अपनी जान से तो हाथ धोना पड़ा लेकिन प्लेन को मोड़,दूर जाकर क्रैश करा कर उसने कई लोगों की जान जान भी बचाई।