छोटे बच्चे को पेट में दर्द होने पर आज़माएं ये घरेलू नुस्ख़े

Web Journalism course

अक्सर शिशुओं को पेट दर्द के कारण रोते हुए देखते हैं। उस वक्त माँ परेशान हो जाती हैं कि कैसे उनके दर्द को कम करें! वैसे तो बहुत सारी दवाईयां भी मिलती है लेकिन कुछ नैचुरल और घरेलू चीजें भी दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं। आप इन घरेलू चीजों को ट्राई करें और अपने बच्चे को हंसते हुए खेलता-मुस्कुराता देखें।

हींग- दो-तीन चुटकी हींग लेकर उसको पानी के साथ मिलाकर पेस्ट बना लें। उस पेस्ट को शिशु के नाभि के चारो तरफ गोलाकार मूवमेंट में लगायें। इस पेस्ट को लगाते वक्त पेट को ढककर रखें और धीरे-धीरे मसाज़ करते रहें। दो-तीन मिनट के बाद देखें इसका जादू। असल में हींग का एन्टी-इन्फ्लैमटोरी और एन्टी-ऑक्सिडेंट गुण पेट के बदहजमी को दूर करने में मदद करती है।

अजवाइन- ज़रूरत के अनुसार कुछ चम्मच अजवाइन एक पैन में डालकर लगभग दस मिनट तक उबालें और उसके बाद उसको छानकर ठंडा होने के लिए छोड़ दें। उसके बाद उस पानी को एक जार में रख दें। कुछ चम्मच इस पानी का शिशु को पिलायें, इससे उनको जल्द पेट दर्द से आराम मिलेगा। अजवाइन पेट का फूलना और बदहजमी जैसे समस्याओं से लड़ने में बहुत मदद करती है। यहाँ तक दूध पिलानेवाली माँ भी बदहजमी होने पर अजवाइन का पानी पी सकती है।

सौंफ- अजवाइन के तरह ही ज़रूरत के अनुसार सौंफ लेकर उसको पैन में उबालने के बाद ठंडा होने के लिए रख दें। पानी को अच्छी तरह से छानकर शिशु को कुछ चम्मच पिलायें। आप अजवाइन और सौंफ दोनों को मिलाकर भी इसका काढ़ा बना सकती हैं। काढ़ा को ताजा बनाकर पिलाना ही अच्छा होता है लेकिन सुबह इसको बनाकर दिन भर भी पिला सकते हैं।

किशमिश- एक मुट्ठी किशमिश लें और उनको आधा करके काट लें। फिर उनको एक पैन में डालकर कुछ देर तक उबाल लें। उसके बाद इसको ठंडा हो जाने के लिए छोड़ दें। खाने के बाद या रात को खाने के पहले इसका कुछ चम्मच सेवन करने से पेट की बदहजमी की समस्या कुछ हद तक दूर होगी।

बेकिंग सोडा- हींग के तरह ही ज़रूरत के अनुसार बेकिंग सोडा के कुछ चम्मच एक बाउल में ले और उसमें पानी डालकर पेस्ट बना लें। उस पेट को शिशु के पेट पर एन्टीक्लॉकवाइस मसाज़ करें और बदहजमी को दूर करें।