छोटे बच्चे क्यों काटते हैं दांत?

Web Journalism course

अक्सर आपने देखा होगा कि छोटे बच्चे अचानक से दांत काटना शुरू कर देते हैं, लेकिन क्या आपने यह जानने की कोशिश की है कि शिशु क्यों दांत काटते हैं। आमतौर पर शिशु के दांत 6 से 8 वें महीने में निकलने शुरू हो जाते हैं। इस दौरान, शिशु को काफी दर्द सहन करना पड़ता है, ऐसे में अपने दर्द को कम करने के लिए यह दांतों से काटना शुरु कर देते हैं। हालाँकि, आप शिशु के इस दर्द को थोड़ा कम कर सकती हैं, जैसे कि आप उन्हें मुंह में चबाने के लिए कुछ दें या फिर अपनी साफ उंगली से शिशु के मसूढ़ों को धीरे-धीरे मलें। इससे दर्द में थोड़ी राहत मिल सकती है।छोटे बच्चे क्यों काटते हैं दांत?

इसके क्या लक्षण हैं ?

जब भी शिशु दांत काटने की कोशिश करें या काटने लगे तब आप निम्न लक्षणों को देख सकती हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं-

मसूढ़ों में सूजन

जब भी आपका शिशु दांत काटता हो तब आप देख सकती हैं कि शिशु के मसूढ़ों में सूजन हो गई होती है। हालाँकि, यह शिशु के दांत आने का पहला लक्षण है, जिस दौरान न केवल मसूढ़ों में सूजन बल्कि सिबसीबाहट भी शुरू हो जाती है।   

अत्यधिक लार का निकलना

जब शिशु में अधिक लार निकलने लगे तब यह दांत निकलने का एक लक्षण होता है। इस दौरान भी शिशु का शरीर दांत काटने के लिए उसे प्रेरित करता है।

शिशु में चिड़चिड़ापन

इस दौरान शिशु बहुत ज्यादा चिड़चिड़ा हो जाता है, और तो और वह हर पांच मिनट में रोना शुरू कर देता है जो काफी तकलीफदेह होता है।

शिशु को भूख न लगना

आमतौर पर शिशु में जब दांत निकलने शुरू होते हैं तब उन्हें भूख-प्यास नहीं लगती है। साथ ही उन्हें दस्त और अपच की समस्या उत्पन्न होने लगती है। जिससे कि बच्चे बहुत शांत हो जाते हैं।

शिशु में दांत काटने की समस्या को कैसे करें कम ?

जैसा कि उपर ही बताया जा चुका है कि शिशु में जब दांत निकलने लगती है तब उनके मशूडों में झनझनाहट महसूस होती है जिस कारण वो दांत काटने की कोशिश करते हैं, लेकिन कुछ ऐसे तरीके हैं जिसके जरिए आप इस समस्या को कम कर सकती हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं-

शिशु को चबाने के लिए कुछ दें

जब शिशु में दांत निकलने शुरू हो जाएं तब आप उन्हें कुछ कड़ी चीजें हांथ में थमा सकती हैं, जैसे कि गाजर या टीथर के रूप में। यह दांत निकलने के दौरान होने वाली परेशानियों से बचने का एक बेहतरीन उपाय है।

बच्‍चे का ध्‍यान दूसरी तरफ लगाएं

जब भी शिशु लगातार रो रहा हो और आपको बार-बार दांत काटने की कोशिश कर रहा ही तब आप उसका ध्यान किसी और चीज की तरफ आकर्षित करें। ताकि शिशु इन बातों को भूलकर थोड़ी देर के लिए शांत रह सकें।

मसूड़े का मसाज करें

शिशु में दांत निकलने के दौरान होने वाले तकलीफ से बचने के लिए मसूड़े का मसाज करना, सबसे सुरक्षित तरीका है। बस अपनी उंगली को अच्छें से साफ करें और फिर 2 मिनट के लिए मसूड़े को हल्के से दबाते हुए, मसाज करें। इससे शिशु को दांत निकलने के दौरान, होने वाले दर्द से राहत मिलती है।

दवाइयाँ

बच्चों को दांत निकलने के दर्द से राहत पहुंचाने के लिए कई दवाइयां भी आती हैं। हालांकि इन दवाइयों का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। कभी भी अपने शिशु को एस्पिरिन न दें, क्योकि इससे  रॅए डिजीज (Reye syndrome) होने का खतरा होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.