अगर आपका बच्चा भी बैठता है इस तरह तो तुरंत हो जाए सावधान

Web Journalism course

बच्चे जीतने छोटे होते है उतना ही उनका ख्याल रखना पड़ता है, क्योंकि एक तो वो नासमझ होते है दूसरे बहुत ही नाजुक। बच्चे हमेशा उलजुलूल हरकतें करते रहते है, कभी अपनी इन हरकतों से हमे हँसाते है तो कभी परेशान भी कर देते है। इसीलिए इनका विशेष रूप से ध्यान रखना पड़ता है साथ ही उनकी हर छोटी-बड़ी बातों, जरूरतों का ध्यान रखना पड़ता है।मगर आपको बता दे की कई बार बच्चों की चोटी-बड़ी बचकानी हरकतों को भी माँ-बाप नजरअंदाज कर देतें हैं जो आगे चल कर काफी ज्यादा समस्या कर सकती है। बताना चाहेंगे की बचपन में अक्सर बच्चे पैरों को पीछे की तरफ मोड़ कर बैठते हैं जैसपर कोई ध्यान नहीं देता और अगर देता भी है तो कभी मना नहीं करते। असल में उन्हें भी नही पता होता की उस पोजीशन में बैठना कितना खतरनाक होता है।

तस्वीर में आप दिख सकते है की बच्चा जिस पोजीशन में बैठा है उसे ‘W सिटींग’ के नाम से जाना जाता है, क्योंकि उनके पैर W की तरह ही दिखतें हैं। बता दे की अगर इस तरह से लागातार बैठने से बच्चों में स्वास्थ्य महामारी भी उभर सकता है। कहा जाता है की W सिटींग में बैठने से बच्चों की काठ की रीढ़ बाहर निकल सकती है या फिर अधिक मेहराब में वापस लोट सकती जिसकी वजह से आगे चल कर दर्द का वजह बन सकती है।

आपको बता दे की W सिटींग कम विकासशील जोड़ों जैसे कूल्हे और घुटनों पर ज्यादा दबाव डालती है साथ ही मांसपेशियों को भी कमजोर करती है। बताना चाहेंगे की इस तरह की कोई समस्या आपके बच्चे के साथ ना हो इसलिए यह बहुत ही जरूरी है की आप अपने बच्चे की हर गतिविधि पर विशेष रूप से ध्यान दे साथ ही अन्य कोई बच्चा इस तरह दिखे तो उसे भी ऐसा करने से रोके क्योंकि यह किसी भी बच्चे का भविष्य खराब कर सकता है।

तस्वीर में आप दिख सकते है की बच्चा जिस पोजीशन में बैठा है उसे ‘W सिटींग’ के नाम से जाना जाता है, क्योंकि उनके पैर W की तरह ही दिखतें हैं। बता दे की अगर इस तरह से लागातार बैठने से बच्चों में स्वास्थ्य महामारी भी उभर सकता है। कहा जाता है की W सिटींग में बैठने से बच्चों की काठ की रीढ़ बाहर निकल सकती है या फिर अधिक मेहराब में वापस लोट सकती जिसकी वजह से आगे चल कर दर्द का वजह बन सकती है।