बड़ी खबर: एलजी से मिले केजरीवाल, अमानतुल्लाह-जारवाल की जमानत याचिका खारिज

Web Journalism course

दिल्ली में मुख्य सचिव को लेकर मचे बवाल के बीच शुक्रवार शाम मुख्यमंत्री केजरीवाल एलजी अनिल बैजल से मिले। दोनों की यह बैठक मात्र 10 मिनट ही चली। कहा जा रहा है कि केजरीवाल कुछ देर में प्रेस कांफ्रेंस कर बताएंगे कि उनकी एलजी से किस बारे में और क्या बात हुई।

मुख्य सचिव से मारपीट मामले में आरोपी आम आदमी पार्टी के दोनों विधायक अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जारवाल की जमानत याचिका तीस हजारी कोर्ट ने खारिज कर दी है। कोर्ट ने दिल्ली पुलिस की वो याचिका भी खारिज कर दी है जिसमें इन दोनों विधायकों की पुलिस रिमांड मांगी गई थी। कोर्ट के इस फैसले के बाद ये दोनों ही विधायक 14 दिन की न्यायिक हिरासत में रहेंगे। अब उन्हें बेल के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर करनी पड़ेगी।

वहीं आज दिन में अंशु प्रकाश से हुई हाथापाई मामले में आज दिल्ली पुलिस सीएम केजरीवाल के घर पहुंची और छानबीन कर रवाना हो गई। बाहर आने पर पुलिस ने बताया कि उन्होंने पूरे घटनास्थल की जांच की और अंदर लगे 21 सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की सीडी जब्त कर ली है। पुलिस का कहना है कि कुल 21 कैमरों में से सिर्फ 14 कैमरे ही काम कर रहे हैं जबकि 7 कैमरे खराब हैं।

अब पुलिस पूरे कैमरों की जांच करेगी कि कहीं उनसे छेड़छाड़ तो नहीं हुई। इसके साथ ही पुलिस ने जानकारी दी कि केजरीवाल से पहले भी इन कैमरों की सीडी मांगी गई थी लेकिन उन्होंने नहीं दिया जिसके बाद पुलिस को मुख्यमंत्री के घर पर पहुंचकर जांच करनी पड़ी। वहीं ये भी बताया कि घर में लगे सीसीटीवी कैमरे 40 मिनट देरी से चलते हैं।

जब पुलिस वालों से पूछा गया कि क्या उन्होंने केजरीवाल को बंधक बनाए रखा या उनसे पूछताछ की तो उन्होंने इस बात से इनकार कर दिया। यह पहली बार है जब दिल्ली पुलिस केजरीवाल के घर पहुंची। वैसे भी केजरीवाल के सलाहकार वीके जैन के सरकारी गवाह बनने के बाद और ये कबूल कर लेने पर कि केजरीवाल के घर पर मुख्य सचिव को पीटा गया था ये माना ही जा रहा था कि जल्द ही दिल्ली पुलिस केजरीवाल के घर पहुंचकर जांच कर सकती है।
 
दिल्ली पुलिस के पहुंचने पर जब केजरीवाल मीडिया के सामने आए तो उन्होंने कहा कि,  ‘इस मामले की जिस शिद्दत से जांच हो रही है, उससे खुश हूं। जांच होनी चाहिए। लेकिन मैं जांच एजेंसियों से कहना चाहता हूं कि जज लोया के कत्ल की जांच पे अमित शाह से पूछताछ करने की भी हिम्मत दिखाएं तो देश उनको बधाई देगा।’

वहीं आईएएस एसोसिएशन का एक दल आज पीएमओ पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री जीतेंद्र सिंह से मिला। जहां महिला अधिकारियों ने शिकायत की कि उनके साथ गलत व्यवहार होता है। उन्हें देर तक दफ्तर में रोका जाता है। वहीं अधिकारियों ने आप विधायकों और मंत्रियों की भी शिकायत की जिस पर मंत्री जीतेंद्र सिंह ने उन्हें कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.